योगदानकर्ता

3 सितंबर 2013

निवेश किसका?

एक लघु कथा

" सुणो जी आज दफ्तरों सीधा मेरे कमरे विच आणा . ए की गल्ल होई सीधा माँ दे कोल !!"
"मर जाणिये"
" जे अज मैं अप्नी माँ नु पूच्दा हाँ ते कल तेरे वि बच्चे तेन्नु पूछन गे !! इन्वेस्मेंट हमेशा पैसे दा नि करीदा !! "
जा बीजी वास्ते वी चाह बना लेया
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~ हिंदी अनुवाद ...

." सुनो जी आज दफ्तर से सीधा मेरे कमरे में आना १ यह क्या बात हुयी सीधा माँ के कमरे मैं जाते हैं आप '
' मेरी प्यारी अगर आज मैं अपनी माँ को पूछता हूँ तो कल तेरे बच्चे भी तभी तो तुझे पूछेंगे न , निवेश हमेशा पैसे का नही किया जाता ......
जाओ माँ के लिय भी चाय बना लेना ".नीलिमा

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~Roman.........
" Suno ji ! Aaaj Office se seedha Mere Room Mai Aana . Yeh Kya Bat Huyi K Aap Seedha Maan ji K Room Mai Chale Jaate Ho !! "
"My Darling " Aaj Agar Mai Apni Maan KO Poochta Hun Tabhi Kal Tere Bachhe Bhi Tujhe Poochenge Na ! Investment Hamesha Money Ka Nhi Kiya Jata , "
Jao Maa K Liy Bhi Chay Bana Lena .


नीलिमा शर्मा
एक टिप्पणी भेजें